डेंगू मच्छर क्या होता है | डेंगू मच्छर से कैसे बचे

Hi दोस्तो फिर से वही मौसम आ गया है डेंगू मच्छर कि चर्चे इधर-उधर होने शुरू हो गये है दोस्तो ये डेंगू के चर्चे एक साल पर June To October मे ज्यादा होती है, आप भी डेंगू के बारे मे जानना चाहते है डेंगू मच्छर क्या होता है डेंगू मच्छर से कैसे बचे तो ये संपूर्ण Post/Article जरूर पढ़े आपको भी पता चल जाएगा डेंगू मच्छर क्या होता है डेंगू मच्छर से कैसे बच सकते है। दोस्तो ऐसे तो बहुत सारे साधारण मच्छर होते है मगर वैज्ञानिको ने अध्ययन करने के बाद पता लगाया कि ये एक एडीज नाम का मच्छर होता है, मॉनसून के समय मे एडीज नाम का मच्छर जन्म लेती है ये मच्छर दिखने मे भी लगभग साधारण मच्छर जैसा ही होता है मगर जब एडीज नाम का मच्छर काटता है तो बुरा प्रभाव लोगो के उपर पड़ती है अगर समय पर इलाईज ना करवाया जाए तो मृत्यु भी हो जाती है। अध्ययन कर्ताओ ने एडीज मच्छर को वायरस वाली मच्छर भी कहते है क्योंकि किसी मोहल्ले मे एक व्यक्ति एडीज मच्छर का शिकार बन जाए तो समझ लीजिए उस गली मोहल्ले मे अधिकांश लोग भी बारी-बारी से डेंगू कि वायरस कि चपेट मे आ जाती है । दोस्तो एक बात बरा अजीब है साधारण मच्छर तो दिन-रात कभी भी काटते है मगर डेंगू एडीज मच्छर केवल दिन मे ही काटती है, जिस शख्स को ये एडीज मच्छर काटती है उसे पहला-दुसरा दिन तक हल्की सी बुखार मस्तिष्क मे दर्द और शरीर मे अकरन होती है मगर तिसरे दिन से ये बुखार, मस्तिष्क दर्द शरीर मे अकरन बहुत जबरदस्त होने लगती है शरीर का तापमान काफी बढ़ जाता है मस्तिष्क मे तेज दर्द होने लगती है और उल्टीया बार-बार आने लगती है कुछ भी खाओ बाहर आ जाता है बेचैनी महसूस 

डेंगू मच्छर क्या होता है | डेंगू मच्छर से कैसे बचे
डेंगू मच्छर क्या होता है | डेंगू मच्छर से कैसे बचे

होती है, शरीर के Blood जलने लगती है मतलब Blood मे एक प्रकार की शक्ती(Platlate)  होती है लगातार कमजोर होती ही जाती है, बड़ी मुश्किल से Doctors डेंगू से पीड़ित मरीज को डेंगू वायरस से निकाल पाते है बुखार लगभग 15 दिन तक लगातार रहती है संपूर्ण ठिक होने मे लगभग चालीस पचास दिन भी लग जाते है, ऐसे मरीज को जल्द से जल्द उपचार नही कराया जाए तो मृत्यू हो जाती है।

डेंगू से बचने का उपाय और उचार:-
दोस्तो आप अब जान ही गए होंगे डेंगू मॉनसून के समय मे जोर-शोर से फैलता है इसका प्रमुख कारण नाले गड्ढे मे पानी जमना इस वजह से डेंगू का आगमन होता है, डेंगू से बचने का एकमात्र उपाय है आसपास पानी ना जमने दे सफाई का ख्याल रखे , मच्छर दानी का इस्तेमाल करे लेकिन एक अजीब बाते है शोधक्रताओ के अनुसार ये एडीज मच्छर साफ पानी के पास ही जन्म लेती है डेंगू दिन मे हि ज्यादातर काटती है साफ-सफाई का प्रबंध रहेगी पानी नही जमने देगे तो आसपास डेंगू का नामोनिशान नही रहेगा अगर फिर भी डेंगू का शिकार बन जाए तो तुरंत ही डाक्टर का सलाह मे रहे मगर एक बात ये भी है डाक्टर के सलाह मे रहेगे तो राहत मिलेगी हि लेकिन अंग्रेजी दवाओ का डेंगू पर असर कम ही होता है डाक्टर्स का भी कहना है कि डेंगू मे Blood Platlate गिरता ही जाता है जिसे कन्ट्रोल करने के लिए कच्चे पपीते का छिलका, नारियल पानी, दलिया, बकरी का दूध खाने-पिने से काफी Helpful होता है। एक बात तो और Blood Platlate Control करने के लिए बकरी का दूध काफी Helpful होता है। दोस्तो आज के लिए इतना ही अगर आप Primary Gyan पर पहली बार आये है तो Subscribe जरूर कर ले आपको Health और Internet से संबंधित सभी जानकारी मिलती रहेगी,,,धन्यवाद ।
     
                           जय हिंद जय भारत

Previous
Next Post »