थायराइड के लक्षण और घरेलू उपचार

हैलो दोस्तो आज हम बात करते है थायराइड क्या होता है? थायराइड कितने प्रकार के होते है? थायराइड के क्या-क्या लक्षण है? थायराइड के उपचार कैसे करे? दोस्तो पहले के समय मे थायराइड का नामोनिशान नही था मगर जैसे जैसे हमलोग डिजीटल लाईफ की ओर बढ़ रहे है वैसे-वैसे विभिन्न प्रकार की बिमारीयो का नाम सुनने को मिल रही है इसका मुख्य कारण ये भी है हम अपने शरीर को जितना आराम देते है उतनी ही ज्यादा बिमारिया हमारे शरीर मे पैदा हो जाती है उन्ही मे से एक बिमारी का नाम थायराइड भी है चलिए बिना समय गवाए बात करते है थायराइड कितने प्रकार के होते है? थायराइड के क्या-क्या लक्षण है और थायराइड के उपचार कैसे कर? संपूर्ण Post/Article जरूर पढ़े आप थायराइड के बारे मे सबकुछ जान पाएगे-

थायराइड के लक्षण और घरेलू उपचार
जानिए थायराइड के लक्षण और घरेलू उपचार



थायराइड क्या है:-

  • थायराइड गले की ग्रंन्थी होती है, जिससे थय्रोक्सिन हार्मोन बनता है, ये हार्मोन विभिन्न प्रकार के समस्याओ से निजात दिलाता है। थायराइड पूरूषो से ज्यादा महिलाओ मे थायराइड होती है, बच्चे को भी थायराइड होती है कोई भी उम्र मे हो सकती है। थायराइड का पता तब चलता है जब ब्लड जाँच T3, T4, TSH की जाती है।


थायराइड कितने प्रकार के होते है:-
  1. हाइपर थायराइड 
  2. हाइपो थाइराडिम 

हाइपर थायराइड के लक्षण
(1) वजन कम होना
(2) हार्ट दर्द होना
(3) पसीना ज्यादा आना
(4) शरीर मे कमजोरी 
(5) हाथ और पैर मे कंपन होना
(6) शरीर मे खून की कमी
(7) शरीर पीलापन लगना

हाईपो थायराइड के लक्षण 
(1) वजन बढना
(2) भूख ना लगना
(3) कब्ज रहना
(4) चमड़ा रूखापन होना
(5) ठंड ज्यादा लगना
(6) आवाज भाड़ी हो जाना
(7) चेहरे पर सुजन हो जाना
(8) मस्तिष्क, गर्दन, जोड़ो मे दर्द रहना
(9) शरीर फूल जाना 

थायराइड कैसे होती है
(1) अधिक तनावग्रस्त जीवन के कारण थायराइड 
(2) विभिन्न प्रकार के बिमारीयो के दवाओ के सेवन थायराइड 
(3) लिमिट मात्रा मे आयोडीन की सेवन ना करने पर थायराइड 
(4) माता-पिता को थायराइड संभावना बच्चे मे भी थायराइड 
(5) स्वस्थ साफ हवा ना मिलने पर भी थायराइड 
(6) खान-पान सही समय पर ना हो तो थायराइड 
(7) प्रेग्नेंसी के दौरान हार्मोंस की महिलाओ के शरीर मे बदलाव होती है, गर्भवती महिलाओ को थायराइड होने की संभावना अत्यधिक होती है।
(8) प्रदूषित हवा सांस लेना हेल्थ पर बूरा प्रभाव होता है, गले कि ग्रंन्थी को नुकसान पहुंचाती है इससे थायराइड होने की संभावना होता है।

थायराइड के उपचार और घरेलू उपाय
(1) बताए गए थायराइड के लक्षण दिखे तो तुरंत ही डाक्टर से सलाह ले।
(2) प्रतिदिन एक घंटा एक्सर्साइज से थायराइड कन्ट्रोल रहता है।
(3) प्रतिदिन चार-पांच लिटर पानी पिये, नारियल पानी बेहद फायदेमंद है।
(4) थायराइड के लिए बिटामिन 'ए' की जरूरत अधिक होती काफी कन्ट्रोल मे रखती है हरा सब्जीयो और गाजर मे मिटामिन 'ए' की मात्रा ज्यादा होती है इसे सेवन करना चाहिए 
(5) आयोडीन थायराइड को कन्ट्रोल करती है कोशिश करे नेचुरल आयोडीनयूक्त पदार्थ का सेवन करे, टमाटर, प्याज, लहसुन का इस्तेमाल भी कर सकते है।
(6) प्रदूषण यूक्त हवाओ से हमेंशा दूर रहना चाहिए।
(7) बाजार कि खाने-पीने वाले पदार्थ से दूरी बनाना चाहिए।
(8) सिगरेट, बीड़ी, खैनी, शराब नशीले पदार्थ से दूरी बनाए।
ये तो है आप घरेलू उपाय से थायराइड को कन्ट्रोल करने की बाते मगर डाक्टर की सलाह मे जरूर रहे
दोस्तो आप यदि Primary Gyan पर नये आये है तो Subscribe जरूर करे यहा आपको फ्रि मे हेल्थ और इंटरनेट की जानकारीया मिलती रहेगी धन्यवाद जय हिंद जय भारत।


Previous
Next Post »