Mobile Phone Ki Data Chori Hone Se Kaise bachaye

चलिए आप भी जान लिजिए अपना Mobile Phone Ki Data Chori Hone Se Kaise bachaye? जी हां दोस्तो आपको पता ही होगा आज के समय मे गरीब आदमी हो या अमीर आदमी हो कम पढा लिखा हो या ज्यादा पढा लिखा हो सभी लोगो के पास जरूर एक स्मार्टफोन होती है और इंटरनेट का इस्तेमाल भी करते है लेकिन बहुत ऐसे लोग है जिन्हे पता नही है इंटरनेट का इस्तेमाल सही ढंग से नही किया जाये तो वे परेशानी मे पर सकते है ब्लैकमेलिंग का शिकार बन जाते है इस आर्टिकल मे हम आपलोगो को बताने वाला हूं कैसे हमारा सारी जानकारी अन्य लोगो के पास पहुंच जाती है मोबाइल फोन से कैसे सारा डाटा चोरी हो जाता है? यदि आप के पास भी स्मार्टफोन है और इंटरनेट का प्रयोग करते है तो इस आर्टिकल को जरूर पढे और अपना मोबाइल फोन मे रखे गये डाटा को सुरक्षित रखे चलिए बिना समय गवाये बात करते है अपना Mobile Phone Ki Data Chori Hone Se Kaise bachaye?

Mobile Phone Ki Data Chori Hone Se Kaise bachaye
Mobile Phone Ki Data Chori Hone Se Kaise bachaye 



यहां पढे मोबाइल फोन कि डाटा चोरी होने से कैसे बचाना चाहिए?

अगर आप स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते है इंटरनेट का प्रयोग करते है सबसे पहले निचे दिये गये बातो को ध्यान मे रखे क्योंकि आपके फोन या कंप्यूटर से डाटा चोरी आपके गलतियो के कारण ही होता है और आपको पता भी नही चलेगा आप अप्लिकेशन के बारे मे तो जरूर जानते होंगे जब भी कोई अप्लिकेशन प्लेस्टोर या अन्य ब्राउजर से डाउनलोड करते है तब आपको खास ध्यान देना होता है मगर आप इसपर ध्यान ही नही देते है आईये जानते है है जब आप कोई अप्लिकेशन अपने मोबाइल फोन मे Install करते है तब वो अप्लिकेशन क्या क्या Permission मांगता है और आप बिना ध्यान दिये हुवे Permission दे देते है जिसके कारण आपका सारा के सारा डाटा चोरी होने का खतरा बढ़ जाता है अगर डाटा चोरी होने से बचाना है तो सबसे पहले एक जान ले कि कभी भी किसी अन्य Browser से Application को फोन मे Install नही करना चाहिए जब भी कोई अप्लिकेशन फोन मे Install करना है तो Playstore से ही करे अब चलिए जानते है किसी भी अप्लिकेशन को क्या-क्या Permission देना चाहिए और क्या नही देना चाहिए-

1. Contact- आपके मोबाइल मे किसका किसका मोबाइल नंबर Save है Contant Permission का मतलब साफ साफ है किसी भी अप्लिकेशन को Install करते है यदि Contact का Permission मांग रहा है अगर आप Permission देते है तो समझ लीजिए आपका Contact मे जितना भी मोबाइल नंबर मौजूद है वो Application बनाने वाला कंपनी या व्यक्ति देख सकता है चाहे तो इस्तेमाल भी कर सकता है!

2. Camera- जिस तरह Contact का Permission मिलने पर आपका सभी नंबर अप्लिकेशन बनाने वाले कि हाथो मे रहेगा ठिक उसी तरह Camera का Permission देने पर अप्लिकेशन बनाने वाला इस्तेमाल कर सकता है मोबाइल आपके पास ही होगी मगर आपके मोबाइल कि कैमरा का इस्तेमाल करके पता कर सकता है आपके आसपास क्या है!

3. Microphone- माइक्रोफोन Permission से आप कहा पर किससे क्या बात कर रहे है Application के मालिक चाहेगा तो आराम से सारी बाते सुन सकता है!

4. Location- लोकेशन Permission से आप भलीभांति समझ गये होंगे आप कहा पर है पता लगाया जा सकता है!

5. Storage- स्टोरेज Permission से आपके फोन मेमोरी मे कैसा फोटो है कैसा विडियोज है क्या-क्या Documents है सारी चीजे उस स्थिति मे चोरी हो सकती है जब आप अविश्वसनीय Application फोन मे Install रखते है, इसलिए कभी भी Fake Application को मोबाइल फोन मे Install ना करे कौन सी अप्लिकेशन को क्या Permission देना जरूरी है जरूरत के मुताबिक Permission सोच समझ कर देेेेना चाहिए!

दोस्तो ये तो सामान्य बाते हमने आपको बताया किस तरह से मोबाइल फोन से डाटा चोरी किया जा सकता है अब बात करे इंटरनेट इस्तेमाल करने कि तो उसमे भी अनेक जगह पर सावधान रहना जरूरी होता है यदि आप और भी सतर्क सावधान रहना चाहते है तो उपर मे दिया गया लिंक क्लिक करके जरूर पढे इंटरनेट सुरक्षित इस्तेमाल कैसे करे उसी विषय पर जानकारी दिया गया है धन्यवाद!!!!!






Newest
Previous
Next Post »